अगर आप ग्रामीण परिवेश से है तो आपने खसरा और खतौनी का नाम सुना होगा। ये दोनों ही नाम अलग अलग है लेकिन इन दोनों का मतलब जानते हैं आप अगर नहीं तो चलिये आज हम आपको बताते है…

क्या है खसरा

खसरा एक कानून के तहत किसी किसान को दिया जाने वाला कृषि दस्तावेज होता है, जिसमें उसकी जमीन के बारे में पूरी जानकारी दर्ज होती है। इसमें लिखा होता है कि ये जमीन कहां से कहां तक है, इस जमीन का मालिक कौन है, इस जमीन पर कौन सी फसल लगी हुई है, इस जमीन की मिट्टी किस तरह की है। राजस्व विभाग इस तरह की सभी जानकारियों को व्यवस्थित ठंग से दर्ज करता है।

खतौनी क्या होती है

खतौनी एक रिकॉर्ड है जो राज्य के राजस्व विभाग के पास होती है। इसमें ये जानकारी दर्ज होती है कि किसी भी व्यक्ति या उसके परिवार के पास कितनी जमीन संपत्ति के तौर पर है। इस दस्तावेज में उस जमीन को लेकर पूरा विस्तृत विवरण होता है। देश में जमीन के बिक्री और खरीद के समय खतौनी का नंबर अहम होता है।

Zeen is a next generation WordPress theme. It’s powerful, beautifully designed and comes with everything you need to engage your visitors and increase conversions.