रेजीडेंसी के पास सीवर लाइन की सफाई करने के दौरान मजदूर पिता-पुत्र की मौत में पुलिस ने केके स्पन कंपनी के निदेशक और ठेकेदार के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। ठेकेदार ने दोनों को बिना ऑक्सीजन मास्क, सुरक्षा के अन्य उपकरण ही मेनहोल में उतार दिया था। दोनों की दम घुटने से मौत हो गई थी। मृतक सोबरन के छोटे बेटे विनय ने वजीरगंज कोतवाली में एफआईआर दर्ज कराई है। विनय ने आरोप लगाया है, कि सफाई के दौरान दम घुटने से पिता शोबरन और भाई सुशील नीचे गिर गए. यह देखकर ठेकेदार और अन्य साथी भाग निकले थे।

सीतापुर के कमलापुर निवासी विनय यादव ने बताया, कि उसके पिता और भाई छह साल से हरियाणा, फरीदाबाद की कंपनी केके स्पन इंडिया प्रा. लि.में सीवर सफाई का काम कर रहे थे. वह लखनऊ से पहले कई अन्य जिलों में कंपनी की साइट पर काम करने गए थे। कम्पनी के डायरेक्टर हिमांशु गुप्ता, ठेकेदार केएस पाण्डेय, कैलाश दीक्षित ने पिता और भाई को लखनऊ में काम के लिए बुलाया था। बुधवार अपरान्ह तीन बजे पिता और भाई को बिना मास्क, सुरक्षा उपकरण मैनहोल से अंदर उतार दिया था. नीचे सफाई के दौरान जहरीली गैस से उनका दम घुटने लगा. दोनों बेहोश होकर नीचे गिर पड़े। यह देख उनके साथी वहां से भाग निकले थे। दोनों को दमकल कर्मियों की मदद से उन्हें बाहर निकाल कर अस्पताल भेजा. जहां डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया था।

Zeen is a next generation WordPress theme. It’s powerful, beautifully designed and comes with everything you need to engage your visitors and increase conversions.