सब्सक्राइब करें

उत्तर प्रदेश विशेष

up bed exam 2020

UP BEd Exams 2020: कोरोना पॉजिटिव भी देने आए थे परीक्षा, स्थिति भयावह

10 August 2020

देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) का लगातार भले ही मीटर बढ़ रहा हो, लेकिन उत्तर प्रदेश सरकार (UP Government) ने इस कोरोना काल में भी कीर्तिमान रच दिया है। जी हां, रविवार को उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्रियों और अधिकारियों ने राज्य स्तरीय संयुक्त बीएड प्रवेश परीक्षा (UP Bed Entrance Exam 2020) का आयोजन किया। यह परीक्षा (UP Bed Entrance Exam 2020) उत्तर प्रदेश के 73 जिलों में 1083 केंद्रों पर सम्पन्न हुई। इस परीक्षा के लिए कुल 4 लाख 31 हजार 904 अभ्यर्थियों ने अपना पंजीकरण कराया है, इसमें से परीक्षा (UP Bed Entrance Exam 2020) देने के लिए 3,57,064 अभ्यर्थी आए। इस परीक्षा में शामिल न आने वालों में कहीं न कहीं कोरोना वायरस (Coronavirus) का एक भयावह भी दिखा है। आखिर रहे भी क्यों न क्योंकि कई जगह पर कोरोना वायरस (Coronavirus) के संदिग्ध मरीज भी परीक्षा (UP Bed Entrance Exam 2020) देने के लिए आए थे।

up bed exam

यूपी के मंत्री, एमएलसी और शिक्षकों ने सीएम को लिखा पत्र, कहा न कराएं परीक्षा

07 August 2020

कोरोना वायरस (Coronavirus) का मीटर देश और प्रदेश में भले ही बढ़ता चला जा रहा है, लेकिन उत्तर प्रदेश नया कीर्तिमान रचने जा रहा है। इसी कोरोना काल में उत्तर प्रदेश में दो बड़ी परीक्षाएं आयोजित होने जा रही है। इन परीक्षाओं में लगभग 18 लाख से अधिक लोगों की भीड़ एकत्रित होगी। यह संख्या भले ही आपको ज्यादा लग रही हो, लेकिन यही हकीकत है। परीक्षा केंद्रों के बाहर से लेकर परीक्षा केंद्र तक कोविड-19 (Covid-19) की खुलेआम दावत दी जाएगी। यही नहीं, भीड़ किसी और की नहीं बल्कि राज्य स्तरीय संयुक्त बीएड प्रवेश परीक्षा (UP Bed Entrance Exam 2020) और खण्ड शिक्षाधिकारी (Block Education Officer Exams) की होने वाली परीक्षा के दौरान एकत्रित होगी। परीक्षा केंद्रों पर बढ़ने वाली भीड़ को देखते हुए शिक्षकों ने हाथ खड़े कर दिए हैं, तो वहीं सरकार के मंत्री और एमएलसी ने भी इस कोरोना काल में बीएड (UP Bed Entrance Exam 2020) और बीईओ (Block Education Officer Exams) की परीक्षा को न आयोजित कराने के लिए सीएम को पत्र लिखा है।

pm modi ram mandir

सिलसिलेवार ढंग से पढ़िये मोदी का अयोध्या राम मंदिर शिलान्यास दौरा

05 August 2020

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राम मंदिर की आधारशिला रख दी है। पूजा समाप्त होने के पहले मोदी ने 12 बजकर 44 मिनट पर चाँदी की कन्नी से नींव डाली। इसके बाद पीएम मोदी ने देश को संबोधित किया। अयोध्या से निकलकर मोदी का काफिला अपने गंतव्य की तरफ बढ़ा। आइए आपको बताते है पल पल की खबर, कब मोदी दिल्ली से निकले और कब मोदी अयोध्या पहुंचे, और कब मोदी ने पूजा की। आगे पढ़िये सिलसिलेवार ढंग से पीएम नरेंद्र मोदी का अयोध्या राम मंदिर शिलान्यास दौरा ......

Ram Mandir

सील हो चुकी हैं अयोध्या की सीमाएं, स्थानीय निवासियों के लिए बना ये नियम

04 August 2020

कल सुबह अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन का कार्यक्रम होगा। पीएम मोदी कल राम मंदिर की नींव रखेंगे। फिलहाल अयोध्या की सीमाएं सील कर दी गई हैं और कल तक बाहरी व्यक्तियों के प्रवेश पर यहां रोक रहेगी। स्थानीय निवासियों के लिए भी यहां कुछ नियम बनाए गए हैं।

rafel manish singh

राफेल लेकर भारत पहुंचने वाले पायलट में यूपी के दो जवान शामिल

29 July 2020

एक बार फिर से राफेल (Rafale) चर्चा में है और साथ ही जिला बलिया भी चर्चा में है। फ्रांस से लड़ाकू विमान राफेल भारत पहुंचने वाला है और इनके पायलट की टीम में बलिया के विंग कमांडर मनीष सिंह (Wing commander Manish Singh) भी शामिल हैं। मनीष ने फ्रांस से भारत के लिए सोमवार को उड़ान भरी। मनीष ने बलिया जिले (Ballia) को गौरान्वित कर दिया है। मनीष के पिता का नाम फौजी मदन सिंह हैं जो थलसेना से रिटर्ग्ड जवान हैं। इनकी पढ़ाई लिखाई गांव से ही हुई थी। अब जब मनीष देश के लिए इतना बड़ा काम कर रहे हैं तो पूरे गांव का सिर गर्व से ऊपर है। राफेल आज हिंदुस्तान की जमीन पर उतरेगा और इसमें मनीष सिंह का भी पूरा योगदान होगा। 

ccsu meerut

कोरोना काल में परीक्षा कराने की तैयारी, मेरठ विवि में 13 अगस्त से होंगी परीक्षाएं

27 July 2020

उत्तर प्रदेश में कोरोना (Coronavirus) के बीच में भी परीक्षाओं को कराने की तैयारी शुरू हो गई है। यूजीसी (UGC) के आदेशानुसार अब परीक्षाओं को कराने की तैयारी चल रही है। इसी क्रम में चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय (Chaudhary Charan Singh University Meerut) भी स्नातक और परास्नातक अंतिम वर्ष की परीक्षाओं (Last Year Exam) को कराने की तैयारी कर रहा है। मेरठ विश्वविद्यालय (Chaudhary Charan Singh University Meerut) की तरफ से 13 अगस्त से परीक्षाएं प्रस्तावित है। अंतिम वर्ष में इस बार दो लाख 20 हजार छात्र एवं छात्राएं पंजीकृत है। अब इनके परीक्षा में बैठने का पूरा अनुमान है। विश्वविद्यालय (Chaudhary Charan Singh University Meerut) की तरफ से परीक्षा को सोशल डिस्टेसिंग को ध्यान में रखते हुए कराने की तैयारी चल रही है। वहीं, छात्रों को पदोन्नत किए जाने पर विचार करने के लिए 30 जुलाई को समिति बुलाई गई है।

 bs chauhan and kl gupta

कौन हैं ये दो दिग्गज जिन्हें SC ने सौंपी है विकास दूबे एनकाउंटर मामले की जांच

24 July 2020

यूपी के चर्चित विकास दूबे एनकाउंटर (Vikas dubey encounter) पर सुप्रीम कोर्ट ने जांच के आदेश दे दिए हैं। कोर्ट ने पूरे मामले के जांच के लिए एक समिति के गठन का आदेश दिया है जिससे ये पता चल सके कि ये एनकाउंटर असली था या फर्जी। बता दें कि यह जांच समिति सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश जस्टिस बलबीर सिंह (Justice balbeer singh) चौहान की अध्यक्षता में बनाई जा रही है जिसके दूसरे सदस्य उत्तर प्रदेश के पूर्व पुलिस महानिदेशक के.एल. गुप्ता होंगे।  सुप्रीम कोर्ट (sc) ने यूपी सरकार से भविष्य में ऐसी घटनाएं न होने की सुनिश्चितता भी मांगी है। जांच समिति एक हफ्ते के अंदर अपना काम शुरू कर देगी और दो महीने के अंदर रिपोर्ट दे देगी। ये समिति कानपूर के बिकरू गांव (Bikaru) में हुई मुठभेड़, पुलिसकर्मियों की मौत सहित सभी पक्षों की जांच करेगी। 

cm yogi guideline for bakrid

योगी सरकार ने बकरीद को लेकर जारी की गाइडलाइन, इन बातों का रखना होगा ध्यान

22 July 2020

इस साल कोरोना संकट ने कई त्योहारों की रौनक को कम कर दिया है फिर होली हो, ईद या आने वाली बकरीद। बढ़ते संक्रमण को देखते हुए योगी सरकार ने बकरीद (Bakrid) को लेकर गाइडलाइल जारी की है। उत्तर प्रदेश सरकार ने कोरोना संक्रमण (Corona Virus) के डर से धार्मिक स्थलों के लिए भी दिशानिर्देश जारी किए हैं जिससे कहीं पर भी ज्यादा संख्या में लोग इकट्ठा न हो सकें। 

divyang pension

उत्तर प्रदेश दिव्यांग पेंशन योजना की पूरी जानकारी यहां मिलेगी

21 July 2020

उत्तर प्रदेश सरकार (government of uttar pradesh) ने दिव्यांगजनों के लिए पेंशन (divyang pension) योजना की शुरुआत की है। यह पेंशन उन लोगों को दी जाती है जो 40 प्रतिशत दिव्यांग (divyang) होते हैं। पेंशन (pension) के लिए आपको कहीं भटकने की जरूरत नहीं। आप पेंशन के लिए ऑनलाइन (online) ही आवेदन कर सकते हैं। हम आपको आवेदन प्रक्रिया की विस्तार से जानकारी देंगे।

iit kanpur

मिलिए ‘पढ़ाकू ऑफ द ईयर’ से, महाशय पढ़ने के लिए डेढ़ महीने हॉस्टल में छिपे रहे

21 July 2020

अगर आपका पढ़ाई में मन नहीं लगता, किताब देखकर जी खराब हो जाता है, स्कूल-कॉलेज देखकर नींद आती है तो इस खबर को ध्यान से पढ़ें। आपको हम मिलाने जा रहे हैं ‘पढ़ाकू ऑफ द ईयर’ से। इन महाशय को पढ़ाई से इतना लगाव है कि उन्होंने कोरोना (corona) काल में लॉकडाउन (lockdown) में हॉस्टल (hostel) के बंद होने के बाद भी घर जाना मुनासिब नहीं समझा। पढ़ाई के लिए श्रीमान जी डेढ़ महीने तक हॉस्टल (hostel) में ही दुबके रहे। बहुत सी कठिनाइयों का इन्होंने सामना किया, लाइट, फैन तक बंद रखे, लेकिन आखिरकार धर लिए गए। कायदे से क्लास ली गई, जमकर फटकारा गया और किताबों के साथ ट्रेन से घर भिजवा दिया गया ताकि वहां पर भी उनकी पढ़ाई जारी रह सके।

सोसाइटी से

अन्य खबरें

Corona Positve

'हमें बीमारी से लड़ना है, बीमार से नहीं'

वनडे में क्लीन स्वीप के बाद न्यूजीलैंड ने टेस्ट के लिए घोषित की टीम

पढ़िए, क्यों राहुल की वजह से पीएम पद से इस्तीफा देना चाहते थे मनमोहन

पराली की समस्या का इन युवाओं ने ढूंढा हल, बना रहे यह सामान

अनुच्छेद 370 के बारे में वह सबकुछ जो आपके लिए जानना जरूरी है

सब्सक्राइब न्यूज़लेटर