सब्सक्राइब करें
वे बातें जो कोहली को बनाती हैं 'विराट'
2008 में श्रीलंका के खिलाफ वन-डे मैचों में पर्दापण करने वाले विराट कोहली ने 10 साल के अंदर 10,000 रन पूरे करके इतिहास रच दिया है।
इस लेख को शेयर करें

  • 205 पारियों में पूरे किए 10,000 रन

    Indiawave timeline Image

    विराट कोहली

    0,000 रनों का आंकड़ा पाने में विराट कोहली ने सबसे कम 205 पारियों मे पूरा किया। उन्होंने यहां तक पहुंचने में 213 वन-डे मैच खेले और सबसे तेजी से 10,000 रन बनाएं। सचिन तेंदुलकर को अपना आदर्श मानने वाले विराट ने यह मुकाम सचिन से 54 पारी पहले ही पा लिया है। सचिन तेंदुलकर ने 259वीं पारी में 10,000 रन पूरे किए थे।

  • शानदार है विराट कोहली का बल्लेबाजी औसत

    Indiawave timeline Image

    विराट कोहली

    10 हजार रनों का आंकड़ा छूकर दसहजारी क्लब में शामिल होने वाले विराट कोहली का बल्लेबाजी का औसत शानदार है। कोहली ने 59.62 की औसत से 10,000 रनों का आंकड़ा पूरा किया है। उनके बाद शानदार औसत में एमएस धोनी है। एमएस धोनी का औसत 51.30 है। तीसरे नंबर पर दक्षिण अफ्रीका के पूर्व ऑलराउंडर जैक्स कैलिस है। उन्होंने 45.45 की औसत से 10,000 रनों का आकंड़ा पूरा किया है। 

  • लक्ष्य का पीछा करते हुए बनाएं 6000 से अधिक रन

    Indiawave timeline Image

    विराट कोहली

    विराट कोहली ने 10,000 रन पूरे किए, उसमें उन्होंने 6000 से अधिक रन लक्ष्य का पीछा करते हुए बनाए है। हालांकि इस मामले में वे अपने आदर्श सचिन तेंदुलकर का रिकॉर्ड नहीं तोड़ पाए है। शीर्ष पर काबिज मास्टर ब्लास्टर ने दूसरी पारी में 8720 रन बनाए हैं। दोनों ही भारतीय खिलाड़ियों के अलावा वेस्टइंडीज के महान बल्लेबाज ब्रायन लारा एकमात्र ऐसे बल्लेबाज हैं, जिन्होंने पहली पारी की तुलना में दूसरी पारी में ज्यादा रन बनाए हैं।

  • पांचवें भारतीय बने विराट

    Indiawave timeline Image

    खुशी मानते विराट कोहली

    दस हजारी क्लब में शामिल होने वालों में विराट कोहली पांचवें बल्लेबाज है। विराट से पहले सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली, राहुल द्रविड़ और एमएस धोनी भी यह कमाल कर चुके हैं। बता दें कि धोनी टीम इंडिया की तरफ से दस हजार रन पूरे करने से 31 रन दूर हैं, लेकिन उन्होंने एशिया एकादश के लिए रन बनाए थे। जिस वजह से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उनके नाम 10,000 से अधिक रन दर्ज हैं। दूसरे नंबर पर श्रीलंका है। यहां के चार बल्लेबाजों ने 10,000 रन पूरे किए हैं। इसमें सनथ जयसूर्या, तिलकरत्ने दिलशान, कुमार संगकारा और महेला जयवर्धने शामिल हैं। इसके अलावा पाकिस्तान के इंजमाम उल हक, दक्षिण अफ्रीका के जैक्स कैलिस, वेस्टइंडीज के ब्रायन लारा और ऑस्ट्रेलिया के रिकी पोंटिंग 10,000 का आंकड़ा पार कर चुके हैं।

  • 1000 रन सिर्फ 11 पारियों में कोहली ने बनाए

    Indiawave timeline Image

    विराट के साथ राेहित शर्मा

    अपने में बेहतरीन विराट कोहली ने 9,000 से 10,000 रन तक का सफर पूरा करने के लिए केवल 11 पारियों का सहारा लिया। उन्होंने इस दौरान पांच शतक और तीन अर्धशतक जमाए। कोहली ने 149.42 की औसत और 103.87 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए।

  • इन देशों के लिए बुरा सपना बने विराट कोहली

    Indiawave timeline Image

    विराट कोहली


    विराट कोहली ने 10000 के रनों में छह देशों के खिलाफ 1,000 से अधिक रन बनाए हैं। दाएं हाथ के बल्लेबाज ने श्रीलंका के खिलाफ सर्वाधिक 2186 रन बनाए। वेस्टइंडीज के खिलाफ उनके 1684 रन हुए। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ कोहली 1269 रन बना चुके हैं। विराट कोहली ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 1182 रन, न्यूजीलैंड के खिलाफ 1154 रन और इंग्लैंड के खिलाफ 1112 रन बना चुके हैं।

  • दूसरे सबसे युवा क्रिकेटर विराट

    Indiawave timeline Image

    विराट कोहली ने दूसरे भारतीय युवा क्रिकेटर बने हैं। विराट ने 29 वर्ष 353 दिन की उम्र में 10,000 रन का आंकड़ा पार किया। ऐसा करने वाले विश्व के दूसरे सबसे युवा बल्लेबाज बने। इस मामले में नंबर-1 पर उनके आदर्श सचिन तेंदुलकर काबिज हैं। महान बल्लेबाज ने 27 साल 341 दिन की उम्र में 10,000 रन का आंकड़ा पार किया था।


  • कोहली ने इन गेंदबाजों की सबसे ज्यादा धुनाई की

    Indiawave timeline Image

    विराट कोहली इन गेंदबाजों के लिए काल बने हुए हैं। वन-डे में कोहली ने सबसे ज्यादा धुनाई श्रीलंका के थिसारा परेरा की करते हुए 262 रन बनाए। इसके बाद नंबर लसिथ मलिंगा का आता है। मलिंगा की गेंदों पर भारतीय कप्तान ने 236 रन बनाए। फिर नुवान कुलसेकरा के खिलाफ 202, एंजेलो मैथ्यूज के खिलाफ 196 रन, इमरान ताहिर की गेंदों पर 194 रन और टिम साउदी के खिलाफ 187 रन बनाए हैं।

  • वेस्टइंडीज के खिलाफ रन बनाने वाले बने पहले बल्लेबाज

    Indiawave timeline Image

    टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने वेस्टइंडीज के खिलाफ बुधवार को दूसरे वन-डे में 48वां रन बनाते ही अपने सबसे पसंदीदा बल्लेबाज का रिकॉर्ड तोड़ दिया। 29 वर्षीय कोहली ने बिशु द्वारा किए पारी के 24वें ओवर की पहली गेंद पर प्वाइंट की दिशा में एक रन लेकर विशाल उपलब्धि हासिल की। कोहली अब वेस्टइंडीज के खिलाफ वन-डे में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज बन गए हैं।कोहली ने अपने आदर्श महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर के रिकॉर्ड को तोड़ा। सचिन तेंदुलकर के नाम रिकॉर्ड दर्ज था। मास्टर ब्लास्टर ने वेस्टइंडीज के खिलाफ 39 मैचों में 52.43 की औसत और 78.03 के स्ट्राइक रेट के साथ 1573 रन बनाए। उन्होंने इस दौरान चार शतक जबकि 11 अर्धशतक लगाए। तीसरे नंबर पर राहुल द्रविड़ है। उन्होंने कैरीबियाई टीम के खिलाफ 40 मैचों में 42.13 की औसत और 74.39 के स्ट्राइक रेट के साथ 1348 रन बनाए हैं।

  • सबसे कम पारियों में पूरे किए 4000 रन

    Indiawave timeline Image

    24 अक्टूबर के मुकाबले में शतक जमाने के बाद विराट कोहली ने घरेलू धरती पर 4,000 रन का आंकड़ा पार किया। वह ऐसा करने वाले तीसरे भारतीय बल्लेबाज बने। कोहली ने इस मामले में सचिन का भी रिकॉर्ड तोड़ दिया। टीम इंडिया के कप्तान ने सबसे कम पारियों में 4,000 रन पूरे किए। 29 वर्षीय कोहली ने घरेलू जमीन पर सिर्फ 78वीं पारी में यह आंकड़ा पार किया। सचिन तेंदुलकर को कीर्तिमान पूरा करने के लिए 92 पारियां खेलनी पड़ी थी। सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली के अलावा महेंद्र सिंह धोनी भी घरेलू धरती पर 4,000 रन बना चुके हैं। उन्होंने 99 पारियों में यह आंकड़ा पार किया था। 

सब्सक्राइब न्यूज़लेटर