सब्सक्राइब करें

सोसाइटी

अस्पताल बनाने के लिए अपना घर देने को तैयार ये हस्तियां, सरकार से की अपील

28 March 2020

कोरोना वायरस की वजह से इस समय पूरा देश आर्थिक संकट से जूझ रहा है। वहीं, भविष्य में इसके बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सरकार अभी से ही तैयारी करने में जुटी हुई है। सरकार ने आइसोलेशन और क्वारंटाइन केंद्र बढ़ाने के लिए शहर के स्कूल-कॉलेज, छात्रावास, स्टेडियम सहित अन्य सरकारी संपत्तियों को लेना शुरू कर दिया है। भविष्य में अगर मरीजों की संख्या बढ़ती है, तो फिर बहुत से लोगों ने अपने घर को आइसोलेशन केंद्र बनाने के लिए अपना मकान देने की बात कहीं है। अपना मकान सरकार को देने वालों में फिल्म अभिनेता कमल हासन से लेकर जाने माने शायर राहत इंदौरी आगे आए हैं। 

लॉकडाउन में भूखों का सहारा बनी 'खाकी', मजदूरों और राहगीरों की मिटा रही भूख

28 March 2020

कोरोना वायरस के चलते हुए लॉकडाउन से सबसे ज्यादा परेशानी का सामना दैनिक मजदूरों को करना पड़ रहा है। अब उनके सामने शहर में रहते हुए रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो गया है। ऐसे में अब इन लोगों को अपने घरों की याद आ रही है। रेलगाड़ी और बस सेवाएं न चलने के बाद बड़ी संख्‍या में लोग अपने गांव के लिए पैदल ही निकल पड़े हैं। 

skand mata

चैत्र नवरात्रि 2020 : पांचवे दिन माँ स्कंदमाता की ऐसे करें पूजा

28 March 2020

चैत्र नवरात्र के पांचवे दिन माँ स्कंदमाता की पूजा की जाती है। माँ दुर्गा का पांचवा रूप स्कंदमाता का है। माँ स्कंदमाता भक्तों की समस्त इच्छाओं की पूर्ति करती है। इन्हें मोक्ष के द्वार खोलने वाली माता के रूप में भी जाना जाता है। 

मिसाल: इस IAS की वजह से बिक रहा 200 रुपये प्रति लीटर हैंड सैनिटाइजर

28 March 2020

कोरोना वायरस का कहर पूरे विश्व में बढ़ता जा रहा है। अमेरिका में संक्रमित लोगों की संख्या 1000 के पार पहुंच गई है। वहीं इटली में बीते 24 घंटे में करीब एक हजार लोग मौत के मुंह में समा गए हैं। वहीं भारत की बात करें तो अभी तक सरकार की ओर से जारी आंकड़े के अनुसार 775 लोगों के संक्रमित होने की सूचना है। वहीं 19 मौत हो चुकी है। इस वक्त देश में सरकार लोगों को संक्रमण से बचाने के लिए तमाम कदम उठा रही है। वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं, जो अपने प्रयासों से इस खतरनाक बीमारी को रोकने का प्रयास कर रहे हैं। ऐसा ही एक मामला झारखंड के बोकारो से सामने आया है, जहां एक आईएएस अधिकारी ने बंद पड़ी एल्कोहल फैक्ट्री को चालू करवाकर सस्ते सैनिटाइजर की आपूर्ति सुनिश्चित की है।

corona positive

सिर्फ निगेटिव बातों पर ध्यान देने के बजाय सकारात्मक पहलू को देखने की जरूरत

28 March 2020

सरकार के लॉकडाउन की घोषणा के बाद कुछ लोगों को तो अपने परिवार के साथ वक्त बिताने का समय मिल रहा है लेकिन कुछ ऐसे भी हैं जो शहरों में अकेले रहकर कोई काम करते हैं, जॉब या पढ़ाई करते हैं वो इस समय अपने परिवार से दूर हैं और ये 21 दिन उनके लिए लंबा समय है। वो न कहीं बाहर जा सकते हैं, न घर जा सकते हैं, न घूम-फिर सकते हैं और न किसी से मिल सकते हैं। ऐसे में कई बार ये अकेलापन उनके लिए तनाव व डिप्रेशन का कारण बनने लगते हैं। इस बारे में हमें मनोवैज्ञानिक नेहा आनंद बता रही हैं कि कैसे इस स्थिति से उन्हें निकाला जा सकता है। डॉक्टर आनंद ने बताया कि इसे दो ग्रुप में बांटकर देखने की जरूरत है एक तो अपर, मिडिल क्लास और दूसरा बिहार, यूपी वाला मजदूर वर्ग। ये वर्ग पढ़ा लिखा भी नहीं है दूसरा जो डिप्रेशन का बेसिक ह्यूमन सर्वाइवल वाली चीज है वो खाना, रहना और कपड़ा है। दूसरा इसके ऊपर का जो एक और लेवल है उसमें इंसान ये सोच रहा है कि हम कभी घर वापस भी जा पाएंगे या नहीं क्योंकि जरूरी नहीं है कि ये 21 दिन बाद सब सामान्य हो जाएगा तो ये डर भी है कि कहीं यहीं न रह जाएं भूखों न मरने लगें। 

maa kushmanda

चैत्र नवरात्र 2020 : चौथे दिन करें माँ कूष्माण्डा की पूजा, जाने विधि और पूजा

27 March 2020

चैत्र नवरात्र में आप हर दिन माँ की अलग अलग रूप में पूजा करते है। नवरात्र का चौथा दिन माँ कूष्माण्डा का होता है। माँ दुर्गा के चौथे रूप में माँ कूष्माण्डा की आप कैसे करें पूजा, माँ को क्या चढ़ाये ताकि आपको मिले माँ का आशीर्वाद। साथ ही आप ये भी जान लें कि माँ की कौन सी आरती करें जिससे माँ कूष्माण्डा खुश हो और आपकी हर तमन्ना पूरी हो।  

तीन प्लाई वाले मास्क की केंद्र सरकार ने तय की कीमत, 16 रुपये से ज्यादा लेना होगा जुर्म

27 March 2020

कोरोना वायरस की वजह से इस समय देश में मास्क की मांग बढ़ गई है। मास्क की मांग बढ़ने के साथ ही बाजार में इसकी कालाबाजारी भी तेज हो गई है। मास्क को लेकर लगातार आ रही शिकायतों को देखते हुए केंद्र सरकार ने फिर से मास्क की कीमत तय कर दी है। अब बाजार में तीन प्लाई वाले फेस मास्क की खुदरा कीमत 16 रुपए तय की गई है। बाजार में इससे अधिक बेचने पर दुकानदार के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के भी आदेश दिए गए है। 

maa chandra ghanta

नवरात्रि 2020 : तीसरे दिन होती है माँ चंद्रघंटा की पूजा, जाने पूजा विधि और मंत्र

26 March 2020

27 मार्च 2020 को चैत्र नवरातरा का तीसरा दिन है, नवरात्र के तीसरे दिन माँ चंद्रघंटा की पूजा की जाती है। माँ चंद्रघंटा के इस स्वरूप को सच्चे मन से पूजा करने पर अप निरोगी होते है। साथ ही आपको शत्रुओं से किसी भी प्रकार से डरने की कोई जरूरत नहीं होती। ये भी कहा जाता है जो भी इस पूजा को करता है उसकी आयु मेन भी वृद्धि होती है।

mahadevi verma

बौद्ध भिक्षु बनने की थी इच्छा लेकिन फिर मिला देश का सर्वोच्च सम्मान

26 March 2020

आज ही के दिन भारत में एक ऐसी महिला ने जन्म लिया जिसकी रचनाओं को आज पूरा विश्व पढ़ रह है। महादेवी वर्मा का जन्म उत्तर प्रदेश के फरुखाबाद जिले में 26 मार्च 1907 को होली के दिन हुआ था। इनके घर में कई पीढ़ियों के बाद कन्या ने जन्म लिया था इसलिए इनके पिता ने इन्हें महादेवी कहा और आगे चलकर इनका नाम महादेवी वर्मा पड़ा। शिक्षा : प्रारम्भिक शिक्षा घर पर हुयी सन 1921 मे महादेवी ने आठवीं क्लास में प्रथम श्तान प्राप्त किया। सन 1925 में हाईस्कूल पास किया। इसके साथ ही सन 1933 में महादेवी ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय से परास्नातक की डिग्री प्राप्त की। जिसके बाद इनको महिला विद्यापीठ में प्राचार्य के पद पर नौकरी भी मिल गयी। महादेवी ने अपने जीवन के आरंभ से लेकर अंतिम समय तक निरक्षरों को साक्षर बनाने में लगी रही। 

farmer

लॉक डाउन में सरकार ने की किसानों की परेशानी कम, खेत में काम करने की दी छूट

26 March 2020

कोरोना की वजह से कई काम-काज बंद हुए हैं, दुकानें बंद हैं, स्कूल-कॉलेज सब बंद हैँ। लेकिन इस दौरान कुछ जरूरी चीजों के लिए सरकार ने छूट भी दी हैऔर इसमें खेती भी शामिल है। किसान इस लॉकडाउन के दौरान भी अपने खेतों में आसानी से आ सकेंगे और काम भी कर सकेंगे। इस दौरान बीज व कीटनाशक की दुकानें भी खुली रहेंगी जिससे किसानों को दिक्कत न हो और उनका कोई घाटा न हो।“ये फसल की कटाई का समय है और अगर हम खेत पर नहीं जा पाएंगे तो नुकसान होगा। सरकार ने ये फैसला करके हम किसानों के बारे में अच्छा सोचा है वरना हमारी तो आमदनी यही है इसी से पूरा परिवार चलता है। लेकिन फसल बेंचगे कैसे इसकी चिंता है।” बस्ती जिले के रेवारी गांव के किसान धर्म सिंह बताते हैं। धर्म सिंह गेहूं, चावल, आलू जैसी परंपरागत फसलों की खेती करते हैं। 

सोसाइटी से

अन्य खबरें

new zealand team

वनडे में क्लीन स्वीप के बाद न्यूजीलैंड ने टेस्ट के लिए घोषित की टीम

पढ़िए, क्यों राहुल की वजह से पीएम पद से इस्तीफा देना चाहते थे मनमोहन

पराली की समस्या का इन युवाओं ने ढूंढा हल, बना रहे यह सामान

अनुच्छेद 370 के बारे में वह सबकुछ जो आपके लिए जानना जरूरी है

सुषमा स्वराज का निधन, अचानक मृत्यु से पूरे देश में उठी शोक की लहर

सब्सक्राइब न्यूज़लेटर