सब्सक्राइब करें

तस्वीरें: वीर सपूतों की याद में बने राष्ट्रीय युद्ध स्मारक की

आजादी के बाद से देश के लिए अपने प्राणों की न्यौछावर करने वाले वीर सपूतों के सम्मान में दिल्ली में राष्ट्रीय युद्ध स्मारक स्थल बनाया गया है। यह स्थल इंडिया गेट के करीब 40 एकड़ एरिया में बनाया गया है। इंडिया गेट के करीब बने होने के कारण यहां से इंडिया गेट स्पष्ट दिखता है। सैनिकों के सम्मान में बनाए गए इस स्मारक का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज उद्घाटन करेंगे। 

यहां से ली गई प्रेरणा

Indiawave Image Gallery
राष्ट्रीय युद्ध स्मारक

'चक्रव्यूह' की संरचना से प्रेरणा लेते हुए बनाए गए इंडिया गेट के निकट राष्ट्रीय युद्ध स्मारक बनाया गया। इसमें चार वृत्ताकार परिसर होंगे और एक ऊंचा स्मृति स्तंभ भी होगा, जिसके नीचे हमेशा अखंड ज्योति जलती रहेगी। चारों वृत्तों के नाम अमर चक्र, वीरता चक्र, त्याग चक्र व रक्षक चक्र होंगे।

पीएम ने राष्ट्र को किया समर्पित

Indiawave Image Gallery
राष्ट्रीय युद्ध स्मारक स्थल पर बैंड बजाते जवान

आज राष्ट्र को समर्पित किए गए इस युद्ध स्मारक को 40 एकड़ में बनाया गया है। एकीकृत रक्षा स्टाफ के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल पीएस राजेश्र्वर ने बताया कि इस युद्ध स्मारक को बनाने में करीब 176 करोड़ रुपये की लागत आई है 


एक साल में बनकर हुआ तैयार

Indiawave Image Gallery
राष्ट्रीय युद्ध स्मारक

राष्ट्रीय युद्ध स्मारक को एक साल के अंदर बनाकर रिकॉर्ड भी बनाया गया है। इस स्मारक की 16 दीवारों पर 25,942 योद्धाओं का जिक्र किया गया है। इस अनोखे स्मारक में ग्रेनाइट पत्थरों पर योद्धाओं के नाम, रैंक व रेजिमेंट का उल्लेख किया गया है।

चीन युद्ध से लेकर कारगिल में शहीद जवानों के नाम

Indiawave Image Gallery
शहीद जवान की मूर्ति

इस स्मारक में चीन युद्ध से लेकर 1999 में हुए कारगिल युद्ध तक के वीर स्पूतों का जिक्र किया गया है। इसमें उनका नाम लिखा गया है जिन्होंने 1962 के भारत-चीन युद्ध, 1947, 1965, 1971 व 1999 के कारगिल (भारत-पाकिस्तान युद्ध) तथा श्रीलंका में शांति बहाल कराने के दौरान अपना बलिदान देने वाले वीर सपूतों का दिया।

फरवरी 2018 से शुरू हुआ था निर्माण

Indiawave Image Gallery
शहीद जवान की मूर्ति

एक साल के अंदर बनकर तैयार हुए राष्ट्रीय युद्ध स्मारक का निर्माण पिछले साल फरवरी माह से शुरू हुआ था। इस स्मारक स्थल का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने  रविवार को 'मन की बात' कार्यक्रम में जिक्र भी किया था और कहा था कि इसका न होना उन्हें अक्सर दुखी और आश्चर्यचकित करता था।


जलती रहेगी अमर जवान ज्योति

Indiawave Image Gallery
अमर ज्योति के पास जवान

लेफ्टिनेंट जनरल राजेश्र्वर ने बताया कि 1971 के भारत-पाक युद्ध में शहीद हुए जवानों की याद में इंडिया गेट के नीचे 1972 में प्रज्वलित की गई अमर जवान ज्योति भी जलती रहेगी।


यह रहेंगे मौजूद

Indiawave Image Gallery
अमर ज्योति

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज राष्ट्रीय युद्ध स्मारक का उद्घाटन करेंगे। इस मौके पर रक्षा मंत्री, सेना, नौसेना और वायु सेना के प्रमुख समेत कई गणमान्य लोग उपस्थित रहेंगे। 

सोसाइटी से

अन्य खबरें

new zealand team

वनडे में क्लीन स्वीप के बाद न्यूजीलैंड ने टेस्ट के लिए घोषित की टीम

February 17, 2020
rahul and manmohan

पढ़िए, क्यों राहुल की वजह से पीएम पद से इस्तीफा देना चाहते थे मनमोहन

February 17, 2020

पराली की समस्या का इन युवाओं ने ढूंढा हल, बना रहे यह सामान

November 02, 2019

अनुच्छेद 370 के बारे में वह सबकुछ जो आपके लिए जानना जरूरी है

November 22, 2019

सुषमा स्वराज का निधन, अचानक मृत्यु से पूरे देश में उठी शोक की लहर

August 07, 2019

सब्सक्राइब न्यूज़लेटर