सब्सक्राइब करें

लाखों दीपों की रोशनी में न्यारी दिखी बाबा विश्वनाथ की नगरी

तीनों लोक में न्यारी काशी की धरा शुक्रवार की शाम को लाखों दीपों से सजी। काशी के 84 घाटों पर रोशनी का चंद्रहार पूरे खिले हुए चांद की रोशनी को चुनौती देता नजर आया। ऐसा लगा कि मानो की काशी के गंगा घाटों पर पूरा देवलोक उतर आया है। काशी के महोत्सव में दीपों के प्रकाश को करने के लिए देश और दुनिया के लाखों लोग जुटे। शुक्रवार की शाम को 21 लाख दीपों से जगमगाई नगरी काशी के अद्भुत दृश्य को आंखों में समा लेने के लिए लाखों देशी-विदेशी अतिथि घाटों पर एकत्रित हुई। इस नजारे के गवाह बने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल, राज्यपाल राम नाईक, पर्यटन मंत्री डा. रीता बहुगुणा जोशी, फिल्म अभिनेता अनिल कपूर और ड्रमर शिवमणि समेत कई नामचीन हस्तियां। 

देव दीपावली का होता है इंतजार

Indiawave Image Gallery
देव दीपावली पर होती अारती

देव दीपावली का इंतजार सिर्फ काशी को ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया को होता है। आज काशी के घाटों पर देवलोक जैसी छवि दिखेगी। इसलिए यहां की देव दीपावली पर प्रकाश से प्रदीप्त गंगा के अप्रतिम सौंदर्य को निहारने के लिए देश-दुनिया से लाखों लोग जुटते हैं। 

जले 21 लाख दीप

Indiawave Image Gallery
काशी घाट पर जलते दीप

तकरीबन आठ किलोमीटर लंबे में फैले काशी के अर्द्धचंद्राकार गंगा घाट शाम होते ही असंख्‍य दीपों की रोशनी से जगमग हो उठेगी। देव दीपावली के मौके पर स्‍थानीय लोगों, स्‍वयंसेवी संस्‍थाओं और सरकार की पहल पर तकरीबन 21 लाख दीयों जले।

बना कीर्तिमान

Indiawave Image Gallery
काशी के मंदिरों में जलते दीप

काशी के सभी 84 घाट तथा 36 कुंड और सरोवरों को सजाया जा रहा है। देव दीपावली पर जलने वाले 21 लाख दीयों की रोशनी में विश्‍व कीर्तिमान बना। 

अनिल कपूर ने की शिरकत

Indiawave Image Gallery
गंगा घाट पर अनिल कपूर

इस मौके के गवाह बने अनिल कपूर ने ट्वीट पर लिखा " आज काशी में देव दिवाली मना रहा हूं। यहां की सकारात्मक ऊर्जा और तरंगे वैसी ही हैं, जिसकी मुझे जरूरत थी। मैं काफी खुश हूं कि इस शुभ दिन को मैं यहां हूं। गंगा आरती कर काफी अच्छा महसूस कर रहा हूं। "  


काशी का खास महत्व

Indiawave Image Gallery
दीप जलाती यूपी पुलिस की महिला सिपाही

देवोत्‍थान एकादशी पर योग निद्रा से जाग्रत हुए श्रीहरि विष्‍णु के देवगण शुक्रवार की शाम को पुण्‍यधरा पर दीपावली का उत्‍सव मनाने उतर रहे हैं। ऐसे में शिव का अविमुक्‍तक्षेत्र काशीधाम देवों की आगवानी के लिये बिल्‍कुल तैयार दिखी।

कार्तिक पूर्णिमा का है धार्मिक महत्व

Indiawave Image Gallery
भगवान शिव की मूर्ति

दीपावली के 15 दिन बाद पड़ने वाली कार्तिक पूर्णिमा का हिंदू धर्म में काफी महत्व बताया गया है। धार्मिक आस्था है कि कार्तिक पूर्णिमा के दिन देवता दीपदान करते हैं। इसलिए इस दिन को देव दिवाली कहते हैं। कार्तिक पूर्णिमा को त्रिपुरारी पूर्णिमा के नाम से भी जाना जाता है। लोग इस दिन नदियों में स्नान करने के बाद शाम को नदी के किनारे दीपक जलाते हैं। 


सांस्कृतिक संध्या का हुआ आयोजन

Indiawave Image Gallery
नृत्य करते कलाकार

देव दीपावली के मौके पर काशी में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें भोजपुरी गायिका कल्पना दुबे सहित कई कलाकारों ने अपनी आवाज का जादू बिखेरा। 

लाखों लोग बने गवाह

Indiawave Image Gallery
नौका से नजारा देखते श्रद्धालु

इस मौके पर जहां देव दीपावली के मौके पर शाम को 21 लाख दीप जलाएं गए। वहीं इस नजारे को अपनी आंखों में समा लेने के लिए लाखों देशी-विदेशी अतिथि घाटों पर एकत्रित हुई। इस मौके पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल, राज्यपाल राम नाईक, पर्यटन मंत्री डा. रीता बहुगुणा जोशी, फिल्म अभिनेता अनिल कपूर और ड्रमर शिवमणि समेत कई नामचीन हस्तियां  भी शामिल हुई। 

सोसाइटी से

अन्य खबरें

new zealand team

वनडे में क्लीन स्वीप के बाद न्यूजीलैंड ने टेस्ट के लिए घोषित की टीम

February 17, 2020
rahul and manmohan

पढ़िए, क्यों राहुल की वजह से पीएम पद से इस्तीफा देना चाहते थे मनमोहन

February 17, 2020

पराली की समस्या का इन युवाओं ने ढूंढा हल, बना रहे यह सामान

November 02, 2019

अनुच्छेद 370 के बारे में वह सबकुछ जो आपके लिए जानना जरूरी है

November 22, 2019

सुषमा स्वराज का निधन, अचानक मृत्यु से पूरे देश में उठी शोक की लहर

August 07, 2019

सब्सक्राइब न्यूज़लेटर