उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से नागरिक उड्डयन विभाग में भर्ती निकाली गई है। सरकार की तरफ से नागरिक उड्डयन निदेशालय की परिचालन इकाई तथा फ्लाइट सेफ्टी इकाई में कुल नौ पदों के सृजन की स्वीकृति प्रदान की गई है। नागरिक उड्डयन विभाग की तरफ से जारी किए गए आदेश के हिसाब से परिचालन इकाई के अंतर्गत प्रबंधन (परिचालन), फार्मेसिस्ट, पायलट (रोटर विंग), पायलट (फिक्स्ड विंग), फ्लाइट डिस्पैचर, कार्यालय अधीक्षक और लिपिक के कुल सात पदों का सृजन किया जाएगा। सरकार की तरफ से फ्लाइट सेफ्टी इकाई के अंतर्गत चीफ ऑफ फ्लाइट सेफ्टी तथा लिपिक को पद सृजित किये जाएंगे।

सरकार की तरफ से निकाली गई भर्ती में प्रबंधन परिचालन के लिए नागरिक उड्डयन विभाग की तरफ से भर्ती निकाली गई है। नागरिक उड्डयन निदेशालय में कार्यरत पायलटों में से योग्य कार्मिक की तैनाती के माध्यम से और संविदा के आधार पर की जाएगी। यही नहीं, फार्मेसिस्ट के पद की भर्ती चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग से सेवा स्थानांतरण/प्रतिनियुक्ति के आधार पर होगी। यही नहीं, पायलट रोटर विंग की भर्ती नागरिक उड्डयन विभाग (परिचालन इकाई) भारतीय नियमावली 2011 के तहत होगी। पायलट (फिक्सड विंग) के पद की भर्ती नागरिक उड्डयन विभाग की तरफ से पायलट हेतु प्राविधानित नियमों के तहत की जाएगी। 

फ्लाइट डिस्पैचर की भर्ती संविदा के आधार पर साक्षात्कार के माध्यम से होगी। कार्यालय अधीक्षक का पद प्रोन्नत के आधार पर भरा जाएगा। लिपिक के पदों की भर्ती लिपिक संवर्ग सेवा नियमावली के आधार पर होगी। यही नहीं, दो पदों में से फ्लाइट सेफ्टी इकाई के अंतर्गत चीफ ऑफ फ्लाइट सेफ्टी के एक पद की भर्ती नागरिक उड्डयन निदेशालय में कार्यरत पायलटों को अतिरिक्त प्रभार अथवा चयन समिति के माध्यम से संविदा पर की जाएगी। इसके अलावा लिपिक के एक पद की भर्ती लिपिक संवर्ग सेवा नियमावली के अनुसार करने की मंजूरी प्रदान की गई है।

Zeen is a next generation WordPress theme. It’s powerful, beautifully designed and comes with everything you need to engage your visitors and increase conversions.