उत्तर प्रदेश 69,000 शिक्षक भर्ती (69,000 Assistant Teachers) में 31,661 शिक्षकों (31,661 Assistant Teachers) की काउंसलिंग के बाद अब 2 दिसंबर से 36,590 शिक्षकों की काउंसलिंग प्रक्रिया शुरू होने जा रही है। इन शिक्षकों की होने जा रही काउंसलिंग प्रक्रिया 4 दिसंबर तक चलेगी। 5 दिसंबर को यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Aditynath) गोरखपुर में नियुक्ति पत्र वितरित करके इसका शुभारंभ करेंगे। करीब 36 हजार शिक्षकों (36,590 Assistant Teachers) के विभाग में आने के बाद जहां शिक्षकों की कमी काफी हद तक दूर होगी, तो वहीं एक समस्या भी आने वाली है। 

69000 शिक्षक भर्ती में जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) से बीएड (B.ED) की डिग्री हासिल करने वाले अभ्यर्थियों को बाहर किया जा सकता है। जम्मू-कश्मीर के बीएड कॉलेजों (Jammu Kashmir B.ED College) से डिग्री हासिल करने वाले अभ्यर्थियों को फिलहाल अभी नियुक्ति पत्र दिए जाने पर रोक लगा दी गई है। इस संबंध में स्कूल शिक्षा महानिदेशक विजय किरण आनंद ने आदेश जारी कर दिया है। अब ऐसे अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र न दिए जाने के संबंध में आदेश भी पारित कर दिया गया है। 

बता दें, जम्मू-कश्मीर के बीएड कॉलेजों (Jammu Kashmir B.ED Colleges) से गड़बड़झाला होने की खबर आने की वजह से बेसिक शिक्षा ने यहां से बीएड करने वाले अभ्यर्थियों की नियुक्ति पर रोक दी थी। इस संबंध में स्कूल शिक्षा महानिदेशक विजय किरन आनंद ने बताया कि शासन ने विधि एवं न्याय विभाग से राय मांगी गई है। इस भर्ती में सर्वोच्च न्यायालय (Supreme Court) के आदेश पर पहले चरण में 31,277 चयनित अभ्यर्थियों (31,661 Assistant Teachers) को 16 अक्तूबर को नियुक्ति पत्र वितरित किए गए थे। उस समय जम्मू-कश्मीर से बीएड (Jammu Kashmir B.ED College) की डिग्री हासिल करने वाले हजारों अभ्यर्थी मिले थे। 

इस संबंध में उन्होंने बताया कि स्कूलों में नियुक्ति देने से पहले दस्तावेजों की जांच में अधिकतर जिलों में कुछ चयनित अभ्यर्थियों के पास जम्मू-कश्मीर के कॉलेजों से प्राप्त बीएड (Jammu Kashmir B.ED College) की डिग्री मिली थी। उनसे संबंधित कॉलेजों को राष्ट्रीय शिक्षक परिषद (एनटीसी) से मान्यता न होने से बेसिक शिक्षा ने उन्हें नियुक्ति देने से इनकार कर दिया। इस संबंध कई बीएसए (BSA) की तरफ से  निदेशालय में रिपोर्ट भी भेजी गई। निदेशालय भेजी गई रिपोर्ट के आधार पर इस मामले की जानकारी शासन को दी गई है। 

बीएड छात्रों को देना होगा प्रमाणपत्र

69000 शिक्षक भर्ती में बीएड (B.ED) के अभ्यर्थियों को भी मौका दिया गया है। अब शिक्षकों की दूसरे चरण में होने जा रही काउंसलिंग में बीएड अभ्यर्थियों को ही मौका मिलने जा रहा है। इस बार बीएड (B.ED) के अभ्यर्थियों को मौका मिलने की वजह से पास होने वाले अभ्यर्थियों की संख्या अधिक है। ऐसे में इस बार काउंसलिंग के समय में एनसीईटी का प्रमाणपत्र बीएड (B.ED) अभ्यर्थियों से मांगा जा रहा है। इस बार अगर काउंसलिंग से संबंधित महत्वपूर्ण परिपत्रों की बात करें, तो बीएड (B.ED) अभ्यर्थियों को काउंसलिंग के समय अपने कॉलेज का NCTE द्वारा वैरिफाई पेपर लगाना होगा। अगर आप प्रमाणपत्र निकाला चाहते हैं, तो आपको वैरिफिकेशन पत्र निकालने के लिए निम्न प्रक्रिया को फॉलो करना होगा।

1. गूगल में NCTE टाइप करें।

2. Recognized Institutions पर क्लिक करें।

3.NORTHERN REGIONAL COMMITTEE पर क्लिक करें

4. UTTAR PRADESH पर क्लिक करें।

5. अब सर्च बॉक्स में अपना कॉलेज सर्च करें और उसके सामने ORDER पर क्लिक करें प्रमाण पत्र डाउनलोड करें।

Zeen is a next generation WordPress theme. It’s powerful, beautifully designed and comes with everything you need to engage your visitors and increase conversions.