सब्सक्राइब करें

इंटरव्यू

jnu

कोरोना को लेकर जेएनयू में बने खास नियम, जानें किन नियमों का करना होगा पालन

12 April 2021

दिल्ली में कोरोना के मामले में बढ़ते जा रहे हैं, ऐसे में कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में इससे रोकने का प्रयास किया जा रहा है। देश में बढ़ते कोरोना के बीच में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) प्रशासन ने भी परिसर में रात्रि कर्फ्यू लागू करने का आदेश जारी कर दिया है। विश्वविद्यालय की तरफ से रात्रि 10 बजे से सुबह पांच बजे तक सभी से छात्रावास व आवास में ही रहने के लिए कहा गया है। इसके अलावा छात्रों, शिक्षकों सहित अन्य कर्मचारियों को इसका सख्ती से पालन करने के भी निर्देश जारी किए गए हैं। विश्वविद्यालय की तरफ से कर्मचारियों और छात्रों के हित में काम किया जा रहा है।

up cadre ias dr hariom

कैलाश मानसरोवर की यात्रा से रूबरू कराएगी IAS डॉ हरिओम की किताब

22 March 2021

'कैलाश मानसरोवर यात्रा: आस्था के वैचारिक आयाम’ मशहूर लेखक, गजल गायक और नामी IAS डॉक्टर हरिओम की ताजा किताब है। इस किताब के जरिए उन्होंने 'यात्रा-आख्यान' विधा में बहुत कुछ जोड़ा-तोड़ा हैं। एक साहित्यिक तीर्थयात्री के बतौर हरिओम के पास वह स्वस्थ और साकांक्ष दृष्टिकोण है जिससे वह 'तीर्थयात्रा' को भी एक रम्य-आख्यान में बदल देते हैं। उनकी दृष्टि खुली और आलोचनात्मक है जिसके कारण वे तीर्थों के भूगोल में फैले व्यवसाय और कुव्यवस्था को भी सामने लाते हैं। आस्था शंका और तर्क से परे होती है जहां चिंतन और वैचारिकी का पूर्णत: समर्पण होता है। शायद इसीलिए आस्थावान भक्त अपने परलोक की चिंता में इहलोक के असहनीय कष्ट को झेल लेते हैं। हरिओम इस यात्रा में धर्म, अध्यात्म आदि पर न सिर्फ तार्किक दृष्टि से विचार करते हैं बल्कि समाज-मनोवैज्ञानिक विश्लेषण भी करते चलते हैं। उनके भीतर यह चिंता भी कायम है कि कैसे धर्म के 'धुंध और पीलेपन ने हमारे देश के सुंदर परिवेश का रंग चुरा लिया है।'

teacher

उत्तर प्रदेश में 8वीं तक के किसी भी छात्र को नहीं किया जाएगा फेल

20 March 2021

कोरोना वायरस की वजह से इस बार यूपी के प्राथमिक स्कूलों का शैक्षिणक सत्र लगभग पूरी तरह से बाधित रहा है। इस बार महज एक ही महीने तक स्कूलों का संचालन हो सका है। स्कूलों का संचालन बेहतर तरीके से न होने की वजह से पढ़ाई भी बहुत बाधित हुई है। ऐसे में यहां पर पढ़ाई करने वाले छात्रों को खास मौका देने की तैयारी यूपी सरकार कर रही है। इस बार यूपी सरकार की तरफ से इन स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को फेल नहीं किया जाएगा। उन्हें इस बार बार प्रमोट कर दिया जाएगा। छात्रों की पढ़ाई बाधित होने की वजह से इस बार ये निर्णय लिया गया है। 

सोसाइटी से

अन्य खबरें

Corona Positve

'हमें बीमारी से लड़ना है, बीमार से नहीं'

वनडे में क्लीन स्वीप के बाद न्यूजीलैंड ने टेस्ट के लिए घोषित की टीम

पढ़िए, क्यों राहुल की वजह से पीएम पद से इस्तीफा देना चाहते थे मनमोहन

पराली की समस्या का इन युवाओं ने ढूंढा हल, बना रहे यह सामान

अनुच्छेद 370 के बारे में वह सबकुछ जो आपके लिए जानना जरूरी है

सब्सक्राइब न्यूज़लेटर