सब्सक्राइब करें

उत्तर प्रदेश विशेष

यूपी के गांवों में नियुक्त होंगी 58 हजार 'बैंकिंग कॉरेस्पॉन्डेंट सखी'

22 May 2020

कोरोना वायरस (Coronavirus) की इस घड़ी में यूपी के गांव-गांव (Villages) तक बैंक की सेवाएं पहुंचाने के लिए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने बड़ा निर्णय लिया है। प्रवासी मजदूरों (Migrant Workers) के गांवों की ओर पलायन करने की वजह से अब गांवों (Villages) में ही लोगों को रोजगार दिलाने के लिए योगी सरकार काम कर रही है। इसी कड़ी में उत्तर प्रदेश के गांवों (Villages) में बैकिंग सुविधा (Banking) को और बेहतर करने के लिए बड़ा निर्णय लिया है। 

yogi adityanath

योगी आदित्यनाथ को मिली बम से उड़ाने की धमकी, रिपोर्ट दर्ज

22 May 2020

उत्तर प्रदेश (uttar pradesh) के मुख्यमंत्री (chief minister) योगी आदित्यनाथ (yogi adityanath) जहां एक तरफ यूपी में कोरोना (corona) को रोकने के लिए दिन रात मेहनत कर रहें हैं वहीं दूसरी तरफ उनकी जान को भी अब खतरा बताया जा रहा है। इस मामले में लखनऊ (lucknow) के गोमतीनगर पुलिस स्टेशन (gomtinagar police station) में एक रिपोर्ट (report) भी दर्ज की गई है। आपको बता दें कि सीएम योगी आदित्यनाथ (cm yogi adityanath) को बम से उड़ाने की धमकी 112 नंबर की सोशल मीडिया डेस्क (social media) के व्हाट्सअप (whatsup) पर दी गई। पुलिस विभाग के इस नंबर पर धमकी मिलने के बाद प्रसाशन के हाथ पाँव फूल गए हैं। सूत्रों से प्राप्त जानकारी में दी गई धमकी में एक विशेष समुदाय के लिए सीएम को बताया गया खतरा।

k.k. Muhammed and ayodhya

मुस्लिम आर्कियोलॉजिस्ट की बात निकली सच, अयोध्या में मिले मंदिर के अवशेष

21 May 2020

भारत में कोरोना (corona) की वजह से स्थिति भयावह बनती ही जा रही हैं लेकिन, आज उत्तर प्रदेश (uttar pradesh) के अयोध्या (ayodhya) से आज एक ऐसी खबर सामने आई जिसके बाद से हिन्दू धर्म में आस्था रखने वालों के चेहरे खिल उठे। अयोध्या (ayodhya) में रामजन्मभूमि स्थल पर समतलीकरण का काम चल रहा है। 11 लोग इस काम में लगे हैं। इस दौरान बड़ी संख्या में प्राचीन मंदिर के अवशेष मिलने के बाद से देश वासियों में ये बात अब कौतूहल का विषय बनी हुयी है। कोर्ट के फैसले के बाद से ही अयोध्या में रामजन्मभूमि स्थल पर मंदिर बनाने का काम शुरू हो गया था लेकिन लॉकडाउन के कारण बीच में ही काम को रोकना पड़ा था। दोबारा काम शुरू होने पर अयोध्या में रामजन्मभूमि पर समतलीकरण का काम चल रहा है। 11 लोग इस काम में लगे हैं। इस दौरान बड़ी संख्या में प्राचीन मंदिर के अवशेष मिले हैं।

लखनऊवासियों को यह मिलेगी छूट, जिलाधिकारी ने जारी की नई गाइडलाइंस

19 May 2020

उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh Government) ने सोमवार की रात को लॉकडाउन 4.0 (Lockdown 4.0) की नई गाइडलाइंस (New Guidelines) को जारी कर दिया है। सरकार (Uttar Pradesh Government) की तरफ से जारी गाइडलाइंस (New Guidelines) के अनुरूप ही लखनऊ (Lucknow) जिला प्रशासन ने भी जारी की है। जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश (DM Abhishek Prakesh) की तरफ से जारी की गई नई गाइडलाइंस (New Guidelines) के हिसाब से जनता को कुछ राहत दी है। 

UP Lockdown 4.0 : मिठाई शॉप व रेस्टोरेंट खोलने का आदेश, जानें आखिर क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद

19 May 2020

कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते संकट को देखते हुए केंद्र सरकार (Central Government) ने लॉकडाउन 4.0 (Lockdown 4.0) का एलान कर दिया है। केंद्र सरकार की तरफ से बढ़ाए जाने के बाद उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी सोमवार की रात को प्रदेश में लॉकडाउन 4.0 (Lockdown 4.0) को बढ़ा दिया है। लॉकडाउन 4.0 (Lockdown 4.0) में योगी सरकार की तरफ से खास निर्देश दिए गए हैं। नए लॉकडाउन  (Lockdown 4.0) में प्रदेश के लोगों को कई चीजों में राहत भी दी गई है। 

yogi adityanath

कोरोना वायरसः लॉकडाउन 4 में यूपी की जनता को मिल सकती हैं ये सौगातें

15 May 2020

कोरोना वायरस (Corona virus) की वजह से पूरे देश में लॉकडाउन (Lockdown) की अवधि को एक बार फिर बढ़ाने की तैयारियां हो रही हैं। लॉकडाउन 4 के विस्तार और नए नियमों की घोषणा 17 मई तक हो जाएगी। इसको लेकर उत्तर प्रदेश की सरकार (Uttar Pradesh Government) ने भी अपनी रिपोर्ट केन्द्र को भेजी है। प्रदेश सरकार नए लॉकडाउन (Lockdown) में कई तरह की सुविधाएं जनता को देने पर विचार कर रही है। इसमें पब्लिक ट्रांसपोर्ट (Public Transport), कंस्ट्रक्शन का काम, सैलून, मॉल्स और मल्टीप्लेक्स को खोलने की भी मंजूरी मिल सकती हैं। हालांकि इसमें सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) का पालन करना पड़ेगा।

new labour law in up

जानिए क्या है नया श्रम कानून, क्यों हो रहा है इसका विरोध

13 May 2020

कोरोना महामारी (Corona pendemic) के बाद जब देश भर में लॉकडाउन (Lockdown) जारी है तब देश की अर्थव्यवस्था (Economy) को भी झटका लगेगा। इसे पटरी पर लाने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार (UP government) ने नया श्रम कानून (Labour law) लागू कर दिया है। पुराने श्रम कानून में कई सारे बदलाव करके नया कानून लागू किया गया है। यही वजह है कि राजनैतिक पार्टियां इसके विरोध में भी खड़ी हैं। 

shobhan sarkar

नहीं रहे शोभन सरकार, जानिए क्यों अकेले पुल बनाने के लिए खरीद लिया था सामान

13 May 2020

उत्तर प्रदेश के कानपुर के प्रख्यात संत व शोभन मंदिर के महंत शोभन सरकार (Shobhan Sarkar) का बुधवार को निधन हो गया। उनकी उम्र करीब 72 साल थी। उन्हें उन्नाव के गांव डौंडियाखेड़ा (Daundia Khera) में सोना दबा होने का दावा करने के लिए भी जाना जाता है। शोभन सरकार का जन्म कानपुर देहात के मैथा ब्लॉक के शकुलनपुरवा में हुआ था। शोभन सरकार का वास्तविक नाम महंत विरक्ता नन्द था। निधन की जानकारी मिलते ही अंतिम दर्शन के लिए भारी संख्या में भक्त मंदिर पहुंच गए। शोभन सरकार (Shobhan Sarkar) का अंतिम संस्कार चौबेपुर के सुनौहरा आश्रम में गंगा किनारे किया जाएगा।

yogi adityanath

कोरोना : महाराष्ट्र से ज्यादा अच्छी स्थिति यूपी की, योगी के सख्त फैसले से बची कई जानें

11 May 2020

कहने को आप कह सकते हैं कि महाराष्ट्र (maharashtra) में मुंबई (mumbai) शहर हैं जहां भारत का अर्थतंत्र विराजमान है और उत्तर प्रदेश (uttar pradesh) से कई मामलों में वो आगे है। लेकिन कोरोना (corona) के भारत आने के बाद उत्तर प्रदेश (up) वालों ने पहली बार खुद पर फ़ख्र महसूस किया कि हम और हमारी यूपी सरकार (up government) महाराष्ट्र की सरकार (maharashtra government) से बेहतर है। पूरे भारत में यदि सबसे अधिक जनसंख्या वाला प्रदेश कहें तो वो उत्तर प्रदेश हैं। जिसकी जनसंख्या 2012 की जनगणना के अनुसार 20 करोड़ से ज्यादा थी। वहीं भौगोलिक क्षेत्रफल की दृष्टि से देखेँ तो यूपी 2 लाख 43 हजार 2 सौ छियासी वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है।

yogi adityanath

कोरोना काल में योगी ने दिया तोहफा, प्रवासी राहत मित्र ऐप किया लांच

08 May 2020

यूपी सीएम (upcm) योगी आदित्यनाथ (yogi adityanath) ने प्रवासी राहत मित्र ऐप (Pravasi Rahat Mitra App) का लोकार्पण किया। इस ऐप का मुख्य उद्देश्य अन्य प्रदेशों से उत्तर प्रदेश में आने वाले प्रवासी नागरिकों को सरकारी लाभ देना है, साथ ही उनके स्वास्थ्य की निगरानी और उनकी योग्यता के अनुसार भविष्य में नौकरी एवं आजीविका प्रदान करने में मदद करना है। उत्तर प्रदेश के राजस्व विभाग ने यूनाइटेड नेशन डेवलपमेंट प्रोग्राम (United Nations Development Programme) के सहयोग से इस ऐप तैयार किया है। यूपी सरकार के विभिन्न विभागों द्वारा आपस में सूचना का आदान प्रदान करके इन प्रवासी लोगों के रोजगार एवं आजीविका के लिए नियोजन एवं कार्यक्रम बनाने में मदद मिलेगी।

सोसाइटी से

अन्य खबरें

new zealand team

वनडे में क्लीन स्वीप के बाद न्यूजीलैंड ने टेस्ट के लिए घोषित की टीम

पढ़िए, क्यों राहुल की वजह से पीएम पद से इस्तीफा देना चाहते थे मनमोहन

पराली की समस्या का इन युवाओं ने ढूंढा हल, बना रहे यह सामान

अनुच्छेद 370 के बारे में वह सबकुछ जो आपके लिए जानना जरूरी है

सुषमा स्वराज का निधन, अचानक मृत्यु से पूरे देश में उठी शोक की लहर

सब्सक्राइब न्यूज़लेटर