सब्सक्राइब करें

ज्योतिष एवं धर्मकर्म

लॉकडाउन में नहीं मिल पा रही पूजा की सामग्री तो मानस स्रोत से करें शिव की पूजा

11 July 2020

शिव मानस पूजा की रचना शंकराचार्य से शिव की स्तुति के लिए की थी इसलिए इसके विशेष महत्ता है। सावन के महीने में शिव मानस पूजा का स्रोत करने से दैहिक और मानिसक दोनों तरह के लाभ मिलते हैं। अगर इस बार लॉकडाउन की वजह से आपको पूजन सामग्री नहीं मिल पा रही है तो आप सिर्फ शिव मानस पूजा की स्तुति करके ही फल पा सकते हैं। पुराणों में भी शिव के इस स्तोत्र का वर्णन मिलता है। शिव मानस पूजा स्तोत्र में कुल मिलाकर 5 श्लोक है। मान्यता है कि इस स्तोत्र से शिव की आराधना करने से भक्त की हर मनोकामना पूरी होती है।

सावन में शिव के इन 108 नामों का करें जाप, इनका अर्थ भी जानें

08 July 2020

कहते हैं कि भगवान को आप सच्चे मन से जिस नाम से बुलाओ वे आपकी आवाज सुन ही लेते हैं। भगवान शिव के भी अनेक नाम प्रचलित हैं। कोई उन्हें शिव कहता है कोई शंकर, किसी के लिए वे महादेव हैं तो किसी के लिए भोले बाबा, कोई महेश्वर को पूजता है तो कोई शम्भू को। लेकिन कहते हैं कि सावन के महीने में शिव के 108 नामों का जप करना चाहिए। कहते हैं कि भोले को जब भी कोई भक्त पुकारता है तो वे उसकी पुकार को अनसुना नहीं करते। आप भी सावन में भगवान को प्रसन्न करने के लिए उनके इन नामों का जाप कर सकते हैं। यहां हम आपको उनके 108 नाम अर्थ के साथ बता रहे हैं। 

belpatra

सावन में भोलेनाथ को बेल पत्र चढ़ाने से पूरी होगी हर मनोकामना

08 July 2020

मृदुल सिंह, ज्योतिषाचार्यऐसी मान्यता है कि भगवान शिव को बिल्वपत्र बहुत प्रिय है। शिवजी की आराधना बिल्वपत्रों के बिना अधूरी है, लेकिन इसका आशय यह नहीं कि हम शिवजी को बिल्वपत्र अर्पण करने के आकांक्षा में बिल्व के वृक्षों को ही उजाड़ दें। अधिकांश लोग यह सोचकर अधिक मात्रा में बिल्वपत्र अर्पण करते हैं कि शायद इससे उन्हें शिवजी की अधिक कृपा प्राप्त होगी। यह एक भ्रान्त धारणा है, क्योंकि परमात्मा तो भावप्रधान होते हैं ना कि परिमाण प्रधान। पूर्ण प्रेमासिक्त और फ़लाकांक्षा रहित भाव से अर्पित किया गया एक छोटा बिल्व पत्र भी वह फ़ल दे सकता है जो फ़लाकांक्षा से अर्पित किए गए लाखों बिल्वपत्र नहीं दे सकते।

lord shiva

भोले को मनाएं, अपने सोए भाग्य को जगाएं

05 July 2020

मृदुल सिंह, ज्योतिषाचार्यसोमवार शिव पूजा के लिए सबसे उत्तम और शुभ माना जाता है। अगर कोई बेरोजगारी या व्यापार में घाटा जैसी समस्या से परेशान है तो सोमवार को किसी भी शिवालय में जाकर छोटा सा उपाय कर ले। कुछ ही दिनों में शिव जी की कृपा से सारी समस्याएं दूर होगी और हर कार्य में सफलता मिलने लगेगी।

सोसाइटी से

अन्य खबरें

Corona Positve

'हमें बीमारी से लड़ना है, बीमार से नहीं'

वनडे में क्लीन स्वीप के बाद न्यूजीलैंड ने टेस्ट के लिए घोषित की टीम

पढ़िए, क्यों राहुल की वजह से पीएम पद से इस्तीफा देना चाहते थे मनमोहन

पराली की समस्या का इन युवाओं ने ढूंढा हल, बना रहे यह सामान

अनुच्छेद 370 के बारे में वह सबकुछ जो आपके लिए जानना जरूरी है

सब्सक्राइब न्यूज़लेटर