टाइमलाइन

टाइमलाइन

अंबेडकर जयंती : बाबा साहब के बारे में कुछ ऐसी बातें जो शायद न जानते हों आप

भारतीय संविधान के रचयिता और समाजसुधारक डॉ भीमराव अंबेडकर का आज जन्मदिन है। बाबासाहब के नाम से भी जाने जाने वाले अंबेडकर जीवन भर समानता को लेकर संघर्ष करते रहे।

छोटे से कमरे से शुरू हुआ था सुशील का सफर, आज पूरी दुनिया है इनकी कुश्ती की दीवानी

ड्राइवर पिता ने बेटे को पहलवान बनाने के लिए सब कुछ किया था कुर्बान, एक भाई ने सुशील की खातिर छोड़ दी थी कुश्ती

बीजेपी स्थापना दिवस : 1980 से अब तक, इस तरह भाजपा बन गई देश की सबसे बड़ी पार्टी

6 अप्रैल 1980 को अटल बिहारी वाजपेयी ने बीजेपी (भारतीय जनता पार्टी) का गठन किया था।

जन्मदिन विशेष : मिलिए गंगा को शहनाई सुनाने वाले उस्ताद बिस्मिल्लाह ख़ान से

भारत रत्न उस्ताद बिस्मिल्लाह ख़ान का आज जन्मदिन है। इस माैके पर रूबरू होते हैं गंगा को शहनाई सुनाने वाले इस महान कलाकार से

केदारनाथ सिंह : 'सबसे खौफनाक क्रिया है जाना'

हिंदी साहित्य व तीसरे सप्तक के प्रसिद्ध कवि व लेखक केदारनाथ सिंह को अलविदा।

व्हीलचेयर पर बैठे-बैठे वैज्ञानिक स्टीफन हॉकिंग ने अंतरिक्ष के रहस्यों से उठाया था पर्दा, ऐसी थी उनकी ज़िंदगी

अल्बर्ट आइंसटीन के बाद उनकी गिनती सबसे बड़े भौतिकशास्त्रियों में होती है।

महात्मा गांधी से लेकर जवाहर लाल नेहरू तक, महिलाओं के बारे में क्या थे दिग्गजों के विचार

किसी को महिलाएं दुनिया की तस्वीर बदलने वाली ताकत लगती थीं तो किसी को महिलाओं की स्थिति उस देश का पर्याय लगती थीं।

जानिए शशि कपूर से जुड़ी कुछ अनसुनी बातें

आखिर राज कपूर क्यों कहते थे शशि कपूर को 'टैक्सी'

...तो इस वजह से कांग्रेस के खेवनहार कहे जाते थे प्रियरंजन दासमुंशी

बंगाल में कांग्रेस के खेवनहार कहे जाने वाले प्रियरंजन दासमुंशी वहां की जनता में काफी लोकप्रिय थे।

विवादों, संघर्षों और सफलताओं भरा जीवन जीने वालीं आयरन लेडी इंदिरा गांधी

आयरन लेडी के नाम से जानी जाने वाली भारत की पहली महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का जीवन संघर्षों, विवादों और सफलताओं के अनगिनत किस्‍सों से भरा पड़ा है।

फिल्‍मों में रंग और एनिमेशन लाने वाले पहले निर्देशक थे वी. शांताराम

फिल्‍म जगत में वी. शांताराम के जीवन को जानना युवा फिल्‍ममेकर्स के लिए एक पवित्र ग्रंथ को पढ़ने के समान है।

तारीखों में देखिए, बाबरी मस्जिद और राम मंदिर का इतिहास...

आपको बता दें, 6 दिसंबर 1992 को बाबरी मस्जिद ढहा दी गई थी, जिसका मुकदमा आज भी लंबित है।

उत्तर प्रदेश में बीजेपी की परिवर्तन यात्रा का सफर

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनावों की तैयारियों के मद्देनजर भारतीय जनता पार्टी ने पूरे प्रदेश में परिवर्तन यात्रा निकालकर जनता से संवाद किया।

जे. जयललिता का सफर: कॉलीवुड से राजनीति तक

जया से अम्मा तक...देश की सबसे लोकप्रिय लीडर का सफरनामा


About Us


indiawave

क्या और क्यों हैं हम?

भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने आजादी की लड़ाई के दौरान अहमदनगर जेल में एक किताब लिखी। भारत की खोज। आजादी मिली, हमने बेशुमार तरक्की भी की। सामाजिक बदलाव आया। चेतना .... Read More