50 वर्ष की विधवा कोमोला ने खोजी अपनी खुशी, 25 वर्ष बाद रचाई दूसरी शादी

social media

ढलती उम्र में अकेलापन बहुत ही कष्टदाई होता है, जब बच्चे बड़े हो जाते और अपनी जिंदगी में व्यस्त हो जाते हैं। ऐसे में जिंदगी अकेली सी हो जाती है और उस समय अपने हमसफर की बहुत आवश्यकता महसूस होती है। शायद यही सोचकर समाज की एक विधवा महिला ने 50 साल की उम्र में दोबारा शादी रचा कर समाज की रूढ़ीवादी सोच को बदलने की कोशिश की है। 

आगे पढ़ें

कमेंट्स लिखें