...तो इस साल गर्मी में यूपी में चलेंगी ठंडी हवाएं

जानकारी के मुताबिक, हरियाणा और राजस्थान समेत कई राज्यों ने केंद्र से अपने कोटे की आवंटित 4300 मेगावाट से ज्यादा बिजली सरेंडर कर दी, जिसके बाद अब इस बिजली का आवंटन नए सिरे से होगा।

आगे पढ़ें

कमेंट्स लिखें